124 IPC in Hindi

124 IPC in Hindi

भारतीय दंड संहिता (IPC) भारत के लिए एक व्यापक आपराधिक संहिता है, जिसे आपराधिक अपराधों की एक विस्तृत श्रृंखला को कवर करने और पीड़ितों को न्याय प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह 1860 में अधिनियमित किया गया था और तब से इसमें कई संशोधन हुए हैं। यह दुनिया के सबसे पुराने आपराधिक कोडों में से एक है, और यह भारत में आपराधिक कानून के आधार के रूप में कार्य करता है। 124 IPC in Hindi

भारतीय दंड संहिता की धारा 124 राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, राज्यपाल, प्रशासक और अन्य गणमान्य व्यक्तियों पर हमले के अपराध से संबंधित है। इस धारा के अनुसार, जो कोई भी, किसी भी तरह से, या बोले गए या लिखित शब्दों द्वारा, या संकेतों द्वारा, या दृश्य प्रतिनिधित्व द्वारा, या अन्यथा, घृणा या अवमानना ​​करता है या लाने का प्रयास करता है, या उत्तेजित करता है या असंतोष भड़काने का प्रयास करता है। 124 IPC in Hindi

राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति, राज्यपाल, प्रशासक, या राष्ट्रपति या राज्यपाल के कार्यों का निर्वहन करने वाला कोई भी व्यक्ति, या कोई भी व्यक्ति जो उच्चतम न्यायालय या उच्च न्यायालय का न्यायाधीश है या रह चुका है, या किसी के प्रति वह व्यक्ति जो भारत का मुख्य चुनाव आयुक्त, या नियंत्रक और महालेखा परीक्षक है या रह चुका है, या कोई भी व्यक्ति जो लोक सभा, या राज्य सभा का अध्यक्ष या उपाध्यक्ष है या रह चुका है, या किसी राज्य की विधान सभा, या किसी राज्य की विधान परिषद के सभापति या उपसभापति को आजीवन कारावास, या दोनों में से किसी भी प्रकार के कारावास से दंडित किया जाएगा जो दस वर्ष तक का हो सकता है, और जुर्माने का भी उत्तरदायी होगा। 124 IPC in Hindi

यह खंड राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति, राज्यपाल, प्रशासक और देश में उच्च पदों पर आसीन अन्य गणमान्य व्यक्तियों की गरिमा और प्रतिष्ठा की रक्षा के लिए बनाया गया है। इन व्यक्तियों की प्रतिष्ठा पर हमला करना या उन्हें बदनाम करना एक गंभीर अपराध है, क्योंकि यह जनता के विश्वास और सम्मान को कम करता है जो उनके और उनके पद पर है। 124 IPC in Hindi

इस अपराध की सजा गंभीर है, क्योंकि इस तरह के उच्च पदस्थ अधिकारियों पर हमला करना या उनकी प्रतिष्ठा को ठेस पहुँचाना एक गंभीर अपराध माना जाता है। जुर्माने के साथ आजीवन कारावास से लेकर दस साल की कैद तक की सजा हो सकती है। 124 IPC in Hindi

यह खंड इस खंड में उल्लिखित गणमान्य व्यक्तियों के खिलाफ शारीरिक हमलों या हिंसा की धमकियों तक सीमित नहीं है। इसमें उनके प्रति घृणा या अवमानना, या उनके प्रति अप्रसन्नता उत्पन्न करने का कोई अन्य साधन भी शामिल है, जैसे कि लिखित या बोले गए शब्दों, संकेतों, दृश्य प्रतिनिधित्व, या किसी अन्य माध्यम से। 124 IPC in Hindi

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि यह खंड केवल उस खंड में उल्लिखित गणमान्य व्यक्तियों पर लागू होता है, न कि किसी अन्य व्यक्ति पर। यह एक विशिष्ट अपराध है जो इन व्यक्तियों की गरिमा और प्रतिष्ठा की रक्षा के लिए बनाया गया है, और यह महत्वपूर्ण है कि उनकी स्थिति और उनके पद का सम्मान किया जाए। 124 IPC in Hindi

अंत में, भारतीय दंड संहिता की धारा 124 एक गंभीर अपराध है जिसे राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति, राज्यपाल, प्रशासक और देश में उच्च पदों पर आसीन अन्य गणमान्य व्यक्तियों की गरिमा और प्रतिष्ठा की रक्षा के लिए बनाया गया है। इन व्यक्तियों की प्रतिष्ठा पर हमला करना या उन्हें बदनाम करना एक गंभीर अपराध है और इस अपराध के लिए कड़ी सजा है। यह महत्वपूर्ण है कि इन व्यक्तियों के पद और कार्यालय का सम्मान किया जाए, और ऐसे किसी भी कार्य या व्यवहार से बचना चाहिए जो उन्हें घृणा या अवमानना ​​में ला सकता है, या उनके प्रति असंतोष को उत्तेजित कर सकता है। 124 IPC in Hindi

Leave a Reply